आपका 5-स्टार AC अगले महीने से हो जाएगा 4-स्टार, जानिए क्यों पड़ेगा रेटिंग पर असर

Air Conditioners (AC) की एनर्जी रेटिंग को लेकर अगले महीने से रूल्स चेंज  होने वाले हैं. नई रिपोर्ट के अनुसार, 1 जुलाई से रेटिंग्स में बदलाव किए  जाएंगे. 

इसका मतलब 5-स्टार AC मॉडल के लिए ज्यादा एनर्जी एफिशियंसी गाइडलाइन्स जारी की जाएगी. जानिए इसका आप पर क्या असर पड़ेगा.  

सबसे पहले ये जानना जरूरी है कि स्टार रेटिंग क्या है. AC या दूसरे एप्लायंसेज में स्टार रेटिंग एनर्जी एफिशियंसी को दिखाती है. 

इस रेटिंग को BEE या ब्यूरो ऑफ एनर्जी एफिशिएंसी जारी करती है. इससे बायर्स  को पता चलता है कि AC को चलाने के लिए कितनी पावर की जरूरत होगी.  

ज्यादा स्टार मतलब ज्यादा एनर्जी सेविंग और कम बिजली बिल. ये रेटिंग EER या एनर्जी एफिशिएंसी रेशियो पर बेस्डो होती हैं. 

बायर्स एनर्जी रेटिंग को ISEER रेटिंग स्टैंडर्ड से देख सकते हैं. ये साल 2018 से मेंडेटरी कर दिया गया था.  

दरअसल ISEER CSTL (कूलिंग सीजनल टोटल लोड) और CSEC (कूलिंग सीजनल एनर्जी कंजम्पशन) का रेशियो होता है. 

आसान भाषा में इसे समझें तो AC एक साल में कितनी हीट को रिमूव कर सकता है और उसके लिए ये कितनी एनर्जी लेगा उसका रेशियो है.