चाणक्य नीति,घर में इन चीजों के होने से सुखी घर में लगती है आग और दरिद्रता फैलती है

तुलसी पौधा सूखना   आचार्य चाणक्य के अनुसार तुलसी के हरे पौधे को अचानक घर में सुखाना अच्छा नहीं होता है।  

हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे की बहुत पूजा की जाती है।  ऐसे में इसे सुखाने से आप आर्थिक रूप से कमजोर हो सकते हैं।   

इस पौधे को सुखाने से आपके परिवार में मुसीबतों का पहाड़ आ सकता है।  इसलिए तुलसी के सूखे पौधे को हटाकर नया पौधा लगाएं। 

प्रतिदिन उनकी पूजा करें और पीठासीन देवता से प्रार्थना करें कि सब कुछ ठीक हो जाए। 

बार-बार दूध गिरना   अगर घर में रोज दूध गिरता है या बार-बार शीशा टूटता है तो यह घर की खुशियों के लिए अच्छा नहीं होता है।   

अगर ऐसा होता है तो घर में बहुत गंभीर संकट आ सकता है।  या आप आर्थिक रूप से बहुत कमजोर हो सकते हैं। 

घर के लोग सो नहीं पाते   घर के लोगों की नींद उड़ जाना भी अच्छा संकेत नहीं है।  

यह इंगित करता है कि वास्तु दोष वित्तीय परेशानी ला सकता है। 

आए दिन घर में झगड़ा   अगर आपके परिवार के सदस्यों के बीच रोज झगड़ा होता है तो यह घर में शांति और प्रगति के लिए अच्छा संकेत नहीं है।  

जिस घर में इतनी नकारात्मकता फैली हो वहां माता लक्ष्मी का वास कभी नहीं होता।  साथ ही झगड़े की वजह से घर में आग लग जाती है।  

इसलिए अपने घर से नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए घर के सभी लोगों को आपस में बात करनी चाहिए  

और सभी मुद्दों को बातचीत से सुलझाना चाहिए न कि लड़ाई-झगड़े से।