कुबेर का खजाना छिपा है नीतीशास्त्र मे, जानें धनतेरस पर चमत्कारी इलाज

पैसे की बचत चाणक्य नीति कहती है कि स्त्री और पुरुष दोनों को धन बहुत सोच समझकर खर्च करना चाहिए। 

जो लोग इस पर ध्यान नहीं देते उन्हें बाद में परेशानी और परेशानी का सामना करना पड़ता है। 

पैसे बचाने के छोटे-छोटे उपाय बहुत कारगर साबित होते हैं। 

पैसे की रक्षा करें चाणक्य ने नीतिशास्त्र में कहा है कि जब पैसा आए तो उसकी सुरक्षा पर भी ध्यान देना चाहिए। 

धन की रक्षा अच्छी तरह से करनी चाहिए अन्यथा माँ लक्ष्मी क्रोध में घर छोड़ देती हैं। 

पैसे की खफत   आचार्य चाणक्य ने नैतिकता में कहा है कि जब पैसा आता है तो लापरवाही से और  बिना सोचे समझे पैसा खर्च करने वाले लोग अनावश्यक चीजों पर पैसा खर्च करने  लगते हैं।  

खासकर धनतेरस के दिन लक्ष्मीजी अपने घर से बाहर निकलती हैं।  आचार्य चाणक्य  के अनुसार जो लोग अपनी आय से अधिक पैसा खर्च करते हैं वे 

हमेशा परेशानी और कर्ज से घिरे रहते हैं।  मानसिक तनाव और कलह उनका पीछा कभी नहीं छोड़ते।  जरूरत पड़ने पर ही पैसा खर्च करना चाहिए। 

इस पर ध्यान देने वालों पर हमेशा लक्ष्मीजी की कृपा बनी रहती है।