ऐसी महिला का पति होना मौत के समान,भूलकर भी न करें ये चूक  

आचार्य चाणक्य ने कहा है कि यदि पत्नी दुष्ट है, मित्र कुरूप है और दास प्रतिशोध लेने वाला है, तो आपको सावधान रहना चाहिए। 

चाणक्य ने कहा है कि यदि किसी पुरुष की पत्नी दुष्ट है, उसका मित्र झूठा है और सेवक उत्तरदायी है 

तो यह घर में सांप के साथ रहने के समान है जो मृत्यु के बराबर है।

दुष्ट पत्नी के साथ रहना मृत्यु के समान है आचार्य चाणक्य ने चाणक्य नीति में कहा है कि अगर आपकी पत्नी दुष्ट है तो आपको सावधान रहना चाहिए।  

ऐसी पत्नी आपको कभी भी मुसीबत में डाल सकती है।  इसके अलावा अगर आपका दोस्त कम है तो 

आप कभी भी धोखा दे सकते हैं क्योंकि हम एक दोस्त पर बहुत भरोसा करते हैं।  लेकिन अगर दोस्त कम है तो आपकी जान को खतरा हो सकता है। 

चाणक्य नीति में आचार्य चाणक्य ने कहा है कि यदि आपका सेवक उत्तर देने वाला है तो वह बहुत दुखीदाय है। 

आपको हमेशा अपने सेवक पर नजर रखनी चाहिए।  ऐसे सेवक आपको संकट में डाल सकते हैं।