Electric Car vs Petrol Car: बाजार में इलेक्ट्रिक कार धूम तो मचा रहीं लेकिन जानिए कि पेट्रोल की तुलना में क्या ये वाकई सस्ती हैं?

भारतीय बाजार में बीते एक दो साल के दौरान कई इलेक्ट्रिक फॉर व्हीलर और टू व्हीलर दस्तक दे चुकी हैं.

इलेक्ट्रिक कार और पेट्रोल कार में से कौन है बेहतर और किसके क्या हैं  फायदे. इलेक्ट्रिक कार फ्यूचर कार है, जो कई बेहतर फीचर्स के साथ आती हैं.  आइए जानते हैं इनके बारे में.

यहां तक की बाजार में कई इलेक्ट्रिक कार ऐसी भी हैं, जो सिंगल चार्ज  (Single charge driving range ) में 300-400 किलोमीटर तक की रेंज दे सकती  हैं.

इसके बावजूद कई लोगों के मन में खयाल आता है कि इलेक्ट्रिक कार या फिर पेट्रोल ईंधन पर चलने वाली कार, किसे लेना है ज्यादा बेहतर

इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसी बातों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो दोनों ही कार में फैसला लेने में मदद कर सकती है.

रअसल पेट्रोल और डीजल पर चलने वाले इंजन को इंटरनल कंबशन इंजन (आईसीई) कहते हैं.

रअसल पेट्रोल और डीजल पर चलने वाले इंजन को इंटरनल कंबशन इंजन (आईसीई) कहते हैं.

रअसल पेट्रोल और डीजल पर चलने वाले इंजन को इंटरनल कंबशन इंजन (आईसीई) कहते हैं.

दरअसल इलेक्ट्रिक कार बैटरी को चार्ज करने के बाद चलती है और यह सिंगल चार्ज में 400 किमी तक की रेंज दे सकती है,