रक्षा बंधन 2022: डाक से भेज रहे हैं राखी तो इन बातों का रखें ध्यान, पोस्ट ऑफिस ने मानसून में की ये व्यवस्था 

रक्षाबंधन के त्योहार पर कुछ भाई-बहन इतनी दूर रहते हैं कि मिल नहीं पाते।  ऐसे में बहनें अपने भाइयों को डाक से राखी भेजती हैं।  

कई बार ऐसा होता है कि बारिश के कारण राखी के रैपर भीग जाते हैं और राखी खराब हो जाती है।   

भाई-बहन के पवित्र संबंधों के पर्व रक्षाबंधन के अवसर पर डाकघर ने मानसून को ध्यान में रखते हुए अनूठी पहल की है। 

डाक द्वारा भेजी गई राखियों को मानसून की बारिश में भीगने से बचाने के लिए  डाकघर वाटर प्रूफ लिफाफा लेकर आए हैं, ताकि राखियां अब गीली न हों.    

बहनें अब वाटर प्रूफ लिफाफे में सुरक्षित राखी भेज सकती हैं।  भाइयों को राखी पहुंचाने में कोई हर्ज नहीं होगा|

ा.  इस लिफाफा के लिए बहनों को 10 रुपये देने होंगे।  ये वाटर प्रूफ लिफाफे किसी भी डाकघर में उपलब्ध होंगे।   

 ऐसे में वे अपने भाई के घर या बहन के घर पहुंचकर रक्षाबंधन का पर्व  मनाते रहे हैं.  लेकिन कुछ भाई-बहन इतनी दूर रहते हैं कि किसी त्योहार के  मौके पर भी मिल नहीं पाते।   

  इसलिए बहनें अपने भाइयों को डाक से राखी भेजती हैं।  विभिन्न कारणों से भाइयों तक पहुंचते-पहुंचते राखी खराब हो जाती थी|

उन्होंने कहा कि यह एक विशेष लिफाफे पर लिखा जाएगा।  जिससे इसकी अलग से पहचान की जाएगी और राखी समय पर भाइयों के पास पहुंच जाएगी।