विदुर नीति मे कहा है,ऐसे लोगों से हमेशा सावधान रहें, सामने वाले का चेहरा देखकर करें काम

विदुर नीति में व्यक्ति को जीवन जीने की कला बताई गई है।  इसमें मनुष्य के गुणों की चर्चा की गई है।  

विदुर नीति के अनुसार जो व्यक्ति इन बातों को व्यवहार में लाता है।  वह जीवन में खुश रहता है।  

विदुर नीति के अनुसार ऐसे व्यक्तियों से सदैव सावधान रहना चाहिए।  जो दूसरे का चेहरा देखकर बात करता है। 

विदुर जी कहते हैं कि सामने वाले का चेहरा देखकर बात करने वाले पर कभी विश्वास नहीं करना चाहिए 

जो व्यक्ति ऐसे लोगों पर विश्वास करता है।  उसे भविष्य में बहुत भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। 

जब महाराजा ने ऐसे व्यक्ति के बारे में विस्तार से जानने की इच्छा व्यक्त की, तो  

विदुर ने कहा कि महाराजा ने कहा कि जो व्यक्ति एक ही घटना के बारे में सभी से अलग-अलग तरीके से बात करता है,  

अर्थात वह किसी और को कुछ कहता है।  व्यक्ति के अलावा कुछ। 

ऐसे लोगों का चरित्र बहुत ही संदिग्ध होता है।  विदुर जी कहते हैं कि ऐसे व्यक्ति रिश्तों में संदेह पैदा करते हैं। 

इसलिए उनकी बातों की पुष्टि किए बिना कोई कदम नहीं उठाना चाहिए। 

विदुर जी कहते हैं कि ऐसे व्यक्ति दूसरों की नजरों में श्रेष्ठ बने रहने के  लिए और अपने उल्लू को सीधा करने के लिए ऐसा करते हैं, लेकिन 

जब उनकी सच्चाई सामने आती है, तो ऐसे व्यक्ति निंदा के पात्र बन जाते हैं।