जानिए किस विटामिन की कमी से हो जाते हैं चेहरे पर मुंहासे, त्वचा भी हो जाती है बेजान!

कुछ लोगों को यौवन के बाद उनके चेहरे पर मुंहासे आना बंध नहीं होते हैं। इसका सबसे अहम कारण

आपके आहार और शरीर में विटामिन की कमी हो सकती है।

विटामिन ए  विटामिन ए की कमी आपके चेहरे की त्वचा को प्रभावित करती है।  विटामिन ए के एंटीऑक्सिडेंट मुक्त कणों से लड़ते हैं।

टमाटर, हरी मिर्च, गाजर समेत कई खाद्य पदार्थों में विटामिन-ए पाया जाता है।

विटामिन बी3  विटामिन-बी3 की कमी से चेहरे की त्वचा पर रैशेज पड़ जाते हैं।  विटामिन  बी3 के एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मुंहासों के इलाज में मदद करते हैं। 

यह चेहरे की चमक को बढ़ाते हुए पिंपल्स को रोकने में मदद करता है।  तैलीय त्वचा वालों के लिए भी विटामिन बी3 बहुत जरूरी है। 

विटामिन डी   विटामिन-डी इम्युनिटी बढ़ाने के साथ-साथ चेहरे की सूजन को भी कम करता है।  

विटामिन-डी से पिंपल्स को कंट्रोल किया जा सकता है। 

विटामिन-ई  विटामिन-ई त्वचा की नमी को कम करता है, कोलेजन उत्पादन को बढ़ाता है, जिससे चेहरे पर चमक आती है। 

विटामिन-ई एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होता है, जो एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करता है।